Call +91 9306096828

आजकल की युवा पीढ़ी बहुत ही ज्यादा बुद्धिबमान है। पढ़ाई करने के बाद उन्हे लाखों रुपए के पैकेज बहुराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा दिये जाते है। बहुत सारे युवा विदेश में भी चले जाते हैं। परंतु कुछ बच्चे ऐसे होते हैं जिन्हे विदेश जाने की लालसा नहीं होती। उन्हे लाखों रुपए का पैकेज भी लुभा नहीं पाता। उनकी ललक होती है भारतीय प्रशासनिक सेवा में जाने की। वे भारतीय प्रशासनिक सेवा में या भारतीय पुलिस सेवा में जाकर देशसेवा करना चाहते हैं। परंतु किसी चीज़ की चाह रखना एक बात है और उसे प्राप्त करना बिल्कुल दूसरी बात है। भारतीय प्रशासनिक सेवा की परीक्षा बहुत ही कठिन होती है। इसमे सालों की मेहनत लगती है। लग्न से पढ़ाई करनी पड़ती है।

इन सबसे बढ़कर यदि आपके भाग्य में उच्च अधिकारी बनना लिखा है आप तभी भारतीय प्रशासनिक सेवा की परीक्षा में सफल होकर आई.ए.एस. बन सकोगे अन्यथा नहीं।

जन्मकुंडली में कौन से योग आई.ए.एस. अधिकारी बनाते हैं

इस लेख के माध्यम से मैं आपको बताउंगा कि आपकी जन्मकुंडली में कौन से योग आपको आई.ए.एस. अधिकारी बनाएँगे। सबसे पहले यहां ध्यान देने योग्य स्थिति यह बनती है कि एक आईएएस ऑफिसर बनने के लिए ना सिर्फ प्रतिभा और ज्ञान की आवश्यकता होती है बल्कि तुरंत निर्णय लेने की क्षमता आपके अंदर होनी चाहिए। हर व्यक्ति आईएएस अधिकारी बनना चाहता है परंतु कुछ ही लोगों को यह मौका मिलता है। एक आईएएस अधिकारी बनने के लिए आपकी कुंडली में निम्नलिखित ग्रह स्थिति होनी चाहिए:-

  • उच्च कोटी का ज्ञान
  • सूर्य की मजबूत स्थिति
  • मंगल की विशेष स्थिति
  • कुंडली का नौवाँ घर

पाँचवाँ घर ज्ञान और नौवाँ घर उच्च कोटी का ज्ञान

सबसे पहले बात आती है ज्ञान की। आपका ज्ञान आपको सफलता दिला सकता है। कुंडली का पांचवा घर सामान्य ज्ञान के लिए और कुंडली का नौवां घर उत्कृष्ट जान के लिए जाना जाता है। आपकी जन्मकुंडली में यह दोनों ही स्थान मजबूत होने चाहिए।

सूर्य और प्रशासनिक सेवाएँ

इसके पश्चात प्रशासनिक सेवाओं में वैदिक ज्योतिष के अनुसार वही व्यक्ति जा सकता है  जिसका सूर्य षोडशवर्गा में मजबूत स्थिति में बैठा हो।  सूर्य की मजबूती के बिना यदि आप आईएएस के पद पर पहुंच भी जाते हैं तो ज्यादा देर तक टिक नहीं पाएंगे।

मंगल और प्रशासनिक सेवा

प्रशासनिक सेवाओं में सफलता के लिए मंगल ग्रह की स्थिति का भी विचार करना चाहिए क्योंकि आपको जो पद प्रतिष्ठा मिलने वाली है वह मंगल के अधिकार क्षेत्र में आती है। पुलिस सेवाओं में मंगल से बढ़कर कोई ग्रह महत्वपूर्ण नहीं होता।

यदि संक्षेप में कहुं तो जन्मकुंडली का पाँचवाँ घर, नौंवा घर, जन्मकुंडली में सूर्य और मंगल ग्रह की स्थिति यह निश्चित करेगी कि आप आई.ए.एस. या आई.पी.एस. बन सकोगे या नहीं।

क्या मैं एक आई.ए.एस. या आई.पी.एस. अधिकारी बनने की योग्यता रखता हूँ ?

इतनी जानकारी के बाद अवश्य जानना चाहेंगे कि मैं आई.ए.एस. या आई.पी.एस. बन सकता हूँ या नहीं। अपनी जन्मकुंडली के साथ मुझसे संपर्क करें। यदि जन्मकुंडली उपलब्ध नहीं हैं तो जन्म तारीख, समय और जन्म स्थान की जानकारी दें ताकि आपको बताया जा सके कि आप के भाग्य में अधिकारी बनने की संभावना है या नहीं।       

अपने प्रश्न GuruVedicOffficial@gmail.com पर भेजें। हम हर ईमेल का जवाब देते हैं। आज ही अपना भविष्य जानें क्योंकि गुरु वैदिक पर प्रश्न पूछने का कोई शुल्क नहीं है

GuruVedic Free Predictions

 

Verification