Call +91 9306096828

यदि आपकी शादी में विलंब हो रहा है और शीघ्र अति शीघ्र आप शादी करना चाहते हैं तो हमारे पास कुछ उपाय हैं जिनसे आपको फायदा हो सकता है शादी में देर होने के कई कारण हो सकते हैं कुंडली में इन कारणों का पता लगाकर आसानी से इसका उपाय कर सकते हैं 

सबसे पहले यह देखें कि किस ग्रह की वजह से या किसी योग की वजह से आपकी शादी में विलंब हो रहा है यदि आप ज्योतिषी के पास भी जाएं तो ज्योतिषी आपको मोटे तौर पर यह समझा सकता है कि मांगलिक योग के कारण आपकी शादी में विलंब हो रहा है या फिर शनि की दृष्टि के कारण साधारण विशेष कारण होते हैं जन्म कुंडली में शादी ना होने के या फिर शादी में देरी होने के प्रमुख कारण थोड़े ही होते हैं। 

कुंडली का सातवाँ घर

भारी मांगलिक योग क्या है

प्रबल या भारी मांगलिक योग जिसे हम ठेठ मांगलिक भी कहते हैं शादी मे देरी का प्रमुख कारण बंता है।  शनि की दृष्टि सातवें घर के आसपास पाप ग्रहों का होना कई ग्रहों का प्रभाव सातवें घर पर होना, यह सब प्रमुख कारण होते हैं शादी में देरी होने के लिए। 

GuruVedic Free Predictions

 

Verification

आपकी कुंडली में जो भी कारण हो इन्हीं ग्रहों से संबंधित कारण बनते हैं शादी में देरी के लिए हम आपको बताने जा रहे हैं। 

भारी मांगलिक योग - ठेठ मांगलिक योग - प्रबल मांगलिक योग

भारी मांगलिक दोष का उपाय 

इसका बहुत ही सीधा और साधारण उपाय हम आपको बता रहे हैं। यदि आपकी कुंडली में बड़ा मांगलिक दोष है आपका मंगल बहुत अधिक हानिकारक है तो इसके लिए आप सबसे पहले किसी विद्वान पंडित से परामर्श करके करवाएं इसमें एक शादी वृक्ष से मिट्टी के घड़े से हो जाएगी। इसे इसे कुंभ विवाह भी कहते हैं। इसे पहली शादी माना जाएगा।

भारी मांगलिक दोष  कुंडली के सातवें घर से आधार लेकर बनता है। यह योग पहली शादी टूटने से खत्म हो जाता है। अगली शादी में मांगलिक दोष का विचार तभी करें जब कुंडली के दूसरे घर पर भी मंगल का प्रभाव अधिकतर स्थितियों में ऐसा नहीं होता। सातवाँ घर

GuruVedic Free Predictions

 

Verification


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *